Types of Transformers as per Interview [ हिंदी ]

Types of Transformers as per Interview – Transformer एक ऐसा यंत्र है जोकि AC पावर को कम या ज्यादा करके हमे आउटपुट देता है। जिसका इस्तेमाल हम आगे दूसरे यंत्रो को कम में लेते हैं। जब Transformer द्वारा हम AC पावर को कम या ज्यादा करता है तो उसकी फ्रीक्वेंसी नही बदलती, जो फ्रीक्वेंसी हमने इनपुट में दी थी वही आउटपुट में मिलती है। तो आइए अब जानते हैं Transformer के प्रकार के बारे में।

Contents

Classification of Transformers

बनावट के आधार पे

Core Type Transformer

इसमें winding का base कोर टाइप होता है।

Shell Type Transformer

इसमें winding का base यानी जिसपे winding लपेटी जाती है वो Shell Type होता है।

Berry Type Transformer

ये एक स्पेशल प्रकार का Transformer होता है और बहुत ही कम जगह पे इस्तेमाल किया जाता है।

Related Posts

  1. [हिंदी] Buchholz Relay | What Is Buchholz Relay, Principle And Operation
  2. Preventive Maintenance and Daily A Check of DG {Hindi}
  3. CT vs PT | Difference between CT and PT [हिंदी]

Voltage level के आधार पे

Step Up Transformer

इस प्रकार के Transformer में आउटपुट पे वोल्टेज का स्तर इनपुट से ज्यादा मिलता है। यानी जितनी वोल्टेज हम इसके इनपुट में देंगे इसके आउटपुट में हमे उस से ज्यादा वोल्टेज मिलेगी।

Step Down Transformer

इस प्रकार के Transformer में आउटपुट पे वोल्टेज का स्तर इनपुट से कम मिलता है। यानी जितनी वोल्टेज हम इसके इनपुट में देंगे इसके आउटपुट में हमे उस से कम वोल्टेज मिलेगी।

1:1 Ratio Transformer

ये बराबर अनुपात वाला Transformer होता है। इस प्रकार के Transformer में आउटपुट पे वोल्टेज का स्तर इनपुट के जितना ही मिलता है। यानी जितनी वोल्टेज हम इसके इनपुट में देंगे इसके आउटपुट में भी हमे उतनी ही वोल्टेज मिलेगी। ये Transformer एक isolator की तरह काम करता है।

Windings की संख्या के आधार पे

Single Winding Transformer

इस प्रकार के Transformer में सिर्फ एक ही Winding होती है, इसे हम Auto Transformer भी कहते हैं।

Two Windings Transformer

इस प्रकार के Transformer में दो Windings होती हैं। जैसे कि Step Up Transformer और Step Down Transformer

Multi Windings Transformer

इस प्रकार के Transformer में दो से ज्यादा Windings होती हैं। इस प्रकार के Transformer भी Step Up Transformer और Step Down Transformer होते हैं। जिनका इस्तेमाल हम 3 फेज Transformer के रूप में करते हैं।

Application (इस्तेमाल) के आधार पे

Power Transformer

इस प्रकार के Transformer HT लाइन (11 kv से ऊपर) यानी के हाई वोल्टेज के ट्रांसमिशन में इस्तेमाल होते हैं।

Distribution Transformer

इस प्रकार के Transformer विद्युत के वितरण में काम आते हैं। ये Step Up Transformer होते हैं जोकि सिंगल और 3 फेज दोनों में ही इस्तेमाल होते हैं।

Impedance Transformer

इस प्रकार के Transformer किसी भी Electronic Circuit के सिग्नल को Amplify यानी बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किये जाते हैं।

Pulse Transformer

इस प्रकार के Transformer का इस्तेमाल किसी भी Electronic Circuit को बंद और चालू करने में किया जाता है।

Element Transformer

ये Transformer heating यानी गर्मी की जरूरत वाले काम मे होती है। जैसे कि furnace वाली जगह

Air Core Transformer

इस प्रकार के Transformer में कोई धातु की कोर नही होती इसमें सिर्फ 2 कोर या वाइंडिंग होती हैं जोकि पास पास होती हैं। ये छोटे प्रकार के Transformer होते हैं जोकि Electronics सर्किट में काम आते हैं।

Phase या Pole की संख्या के आधार पे

Single Phase

इस प्रकार के Transformer में सिर्फ 2 वाइंडिंग या पोल होते है।

Three Phase

इस प्रकार के Transformer में 6 वाइंडिंग या पोल होते हैं

Related Posts

  1. Types of fire and fire extinguishers | आग और अग्निशमक के प्रकार
  2. Why Starter are Required to Run Motor [ हिंदी ]
  3. Why we are using carbon brush in motor

Cooling के तरीके के आधार पे

ONAN

ONAN का मतलब Oil Natural Air Natural होता है यानी जब तेल बिना किसी बाहरी Force के Transformer के Fins में घूमता है साथ ही हवा भी प्राकृतिक तरीके से इसको ठंडा करती हो, तो इसे Oil Natural Air Natural कहा जाता है।

ONAF

ONAF का मतलब Oil Natural Air Forced होता है, इसमें तेल तो बिना किसी बाहरी Force के Transformer के Fins में घूमता है, लेकिन हवा को पंखों के माध्यम से Transformer पे फेंका जाता है।  यह Transformer की क्षमता में 33% तक वृद्धि करता है।

OFAF

OFAF का मतलब Oil Forced Air Forced होता है। इस प्रकार के Transformer में तेल और हवा दोनों को बाहरी Force के द्वारा Transformer पे घुमाया जाता है जिस से Transformer को ठंडा करने में और आसानी होती है। इस से Transformer के काम करने की क्षमता में 66% तक कि वृद्धि होती है।

Rate this post
Previous articleTypes of fire and fire extinguishers | Fire Extinguisher in Hindi
Next articleWhy voltmeter connected in parallel with circuit {हिंदी}

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here