Power Factor Interview Question And Answers [हिन्दी]

3.7/5 - (3 votes)

आज की इस पोस्ट के अंदर हम आपको बताएंगे जब भी Electrical के इंटरव्यू होते हैं उसमें हमसे कुछ सवाल पूछे जाते हैं। और जो इंटरव्यू वाले सवाल होते हैं वह लगभग सीमित विषयों में से ही होते हैं, जैसे कि हो गया Power Factor या फिर Transformer या मोटर को ले सकते हैं। कुछ ऐसे ही आम विषयों के ऊपर सवाल हमसे पूछे जाते हैं। आज की इस पोस्ट में हम आपको Power Factor से जुड़े हुए कुछ सवाल और उनके उत्तर को बताने की कोशिश करेंगे जो आपको किसी भी इंटरव्यू में मदद कर सकते हैं।

नीचे हमने Power Factor से जुड़े कुछ ऐसे सवाल और उनके जवाब बताए हुए हैं, जो इंटरव्यू लेने वाला आपसे पूछ सकता है आप सभी सवाल और उसके जवाब को अच्छी तरह से पढ़ कर याद रखें।

Power Factor कब खराब होता है?

Power Factor कब खराब होता है, यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न है कि Power Factor कब खराब होता है। इसके उत्तर में आप इंटरव्यू में यह जवाब दे सकते हो कि Power Factor तब खराब होता है, जब हम inductive load को Power Supply से जोड़ते हैं। अब आपके मन मे सवाल आयेगा कि ये inductive load क्या होता है। इसके लिए हमने नीचे बताया है।

load कितने प्रकार के होते हैं?

हम आपको बता दें कि लोड तीन प्रकार के होते हैं।

  1. Inductive load
  2. Capacitive Load
  3. Resistive Load

जब भी हम Inductive load को Power Supply से जोड़ते हैं, तो वह power factor को खराब या कम कर देता है। power factor खराब होने से हमारा मतलब है ये 1 से कम होना शुरू हो जाएगा हाइसे 0.9, 0.8 आदि। यह जितना भी कम होता जाएगा उतना ही खराब होता जाएगा, तो जैसे ही हम Inductive load को जोड़ते हैं तो power factor खराब होने लग जाता है या फिर कम होने लग जाता है।

अब Inductive load कौन-कौन से होते हैं?

इंडक्टिव लोड का सबसे अच्छा उदाहरण होता है मोटर। जब भी हम Power Supply पर Inductive load या मोटर चलाते हैं तो power factor कम या खराब होने लग जाता है और अगर Inductive load के उदाहरण की बात करें तो Transformer भी Inductive load ही होता है, Speaker भी Inductive load में ही आते हैं। अगर आपसे यह भी पूछ लिया जाए कि Inductive load कौन सा होता है तो आप सीधा सा उसको जवाब दे सकते हैं कि जिस भी  Electrical Equipment के अंदर वाइंडिंग होती है Inductive load होता है।

Power factor कितने प्रकार का होता है?

इस सवाल के जवाब में आप यह कह सकते हो कि Power factor तीन प्रकार का होता है।

  • Lagging power factor
  • Leading power factor
  • Unity power factor

इस पोस्ट में हम आपको Power factor से जुड़े सवालों के जवाब के साथ साथ उनसे जुड़ी हुई चीजें भी समझाते हुए चलेंगे ताकि आपको आगे चलकर कोई भी दिक्कत ना आए।

Lagging power factor

जैसा कि हमने अभी आपको बताया था Lagging power factor 0.9, 0.8 और 0.7 होता है इस तरह के जो power factor होता  है जो ve- में नहीं है वह Lagging power factor होता है।

Leading power factor

दूसरा power factor जो होता है वह Leading power factor होता है. Leading power factor में जो power factor होता है वह दोस्तों माइनस (ve-) में चला जाता है जैसे कि -0.9, -0.8 आदि। इस तरह का जो power factor होता है वह leading power factor कहलाता है।

अब Lagging power factor और Leading power factor में क्या फर्क है?

Lagging power factor के अंदर हमें कुछ Capacitor लगाने पड़ते हैं जिससे power factor अच्छा हो जाए जबकि Leading power factor तब होता है जब हम ज्यादा Capacitor को जोड़ देते हैं अगर power factor अच्छा करने के लिए हम एक लिमिट से ज्यादा Capacitor जोड़ देते हैं तो ऐसे में power factor Lead करने लग जाता है।

ये देखिए power factor कम या ज्यादा होता कैसे हैं, अब जैसे अच्छ power factor 1 होता है अगर इसके साथ हमने Inductive load जोड़ दिया तो ऐसे में power factor 0.9, 0.8 कुछ इस तरीके से हो जाएगा। यानी के power factor खराब हो जाएगा तो इस power factor को सुधारने के लिए हम इसके साथ Capacitor को जोड़ते हैं।

Read More:-

तो इसके साथ Capacitor जोड़ने के बाद मान लो power factor 0.8 से 0.9 हो गया फिर हमने कुछ और Capacitor जोड़ दिए और वह Capacitor जोड़ने के बाद power factor एक से ज्यादा हो गया तो ऐसे में वह 1.1 या 1.2 नहीं होगा, बल्कि वह -0.9, 0.8 कुछ इस तरीके से हो जाएगा और इसको Leading power factor कहा जाता है।

तो इस सवाल का उत्तर है power factor कितने प्रकार का होता है तो power factor तीन प्रकार का होता है। Lagging power factor जिसमें Capacitor जोड़ने पड़ते हैं, दूसरा होता है Leading power factor इसमें Capacitor को हटाना पड़ता है, और तीसरा होता है यूनिटी power factor.

अब बात करते हैं power factor को कैसे निकाला जाता है

यह प्रश्न भी बहुत ही महत्वपूर्ण है आप जैसे अपने घर का या कहीं का भी बिजली का बिल निकाल रहे हैं तो उसमें आपको पता होना चाहिए कि power factor कैसे निकाला जाता है। power factor को वैसे तो pf से लिखा जाता है कहीं-कहीं पर cosθ भी लिख देते हैं।

अब आपको बताते हैं कि power factor निकालते कैसे हैं तो आपने kW सुना ही होगा तो kW को kVA से भाग कर दीजिए ऐसे करने से power factor निकल आएगा। इस तरीके से रीडिंग नोट करके आप पूरे महीने, 1 दिन, 1 हफ्ते या 1 घंटे का भी power factor निकाल सकते हैं।

Power factor कितना होना चाहिए

जैसा कि हमने आपको बताया था 1 power factor सबसे अच्छा होता है जिसको यूनिटी power factor बोला जाता है, अगर आपसे कोई पूछे तो हमें power factor कितना रखना चाहिए तो आप ऐसा नहीं बोल सकते कि हमें power factor 1 रखना चाहिए। आपका जवाब कुछ ऐसे होना चाहिए कि हम power factor को जितना यूनिटी power factor के नजदीक रख सके उतना हमारे लिए अच्छा है।

जैसे मान लीजिए power factor 0.85 है तो हम उसको 0.99 तक ले जा सकते हैं, तो ये उतना ही अच्छा होता है। हम पर कभी भी power factor 1 नहीं कर सकते लेकिन हम इसके जितना नजदीक हो उतना power factor रख सकते हैं उतना हमारे लिए फायदेमंद रहता है।

अगर power factor ve- में जा रहा है तो क्या करना चाहिए।

जैसा कि हमने बताया था की अगर power factor ve- में जा रहा है तो वह Leading power factor कहलाता है ऐसी हालत में हमने जितने भी Capacitor चालू किए हुए हैं उनको एक एक करके बंद करना है।

तो यह थे power factor से जुड़े कुछ सवाल और जवाब, अगर आपको भी इंटरव्यू से जुड़े कुछ और सवालों के जवाब चाहिए तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं। हमारे इलेक्ट्रिकल से जुड़े वीडियो देखने के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर सकते हैं ।

Previous articleHow to select Current Transformer Ratio। CT कैसे चुनते हैं।
Next articleWhat is OLTC and RTCC

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here