How to select Current Transformer Ratio। CT कैसे चुनते हैं।

5/5 - (1 vote)

CT यानी Current Transformer का चुनाव कैसे किया जाता है, यानी के Current Transformer किस अनुपात का लगाना है यह कैसे पता लगाएंगे। ये सब जानने के लिए इस पोस्ट मे जानेंगे।

Current Transformer का इस्तेमाल कहाँ होता है

जैसा कि हम जानते हैं, जो CT यानी Current Transformer होता है वह सब स्टेशन और बड़े-बड़े उधयोगों में High Current को मापने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मान लेते हैं हमारे पास कोई लोड है जिसका जो 1000A, 2000A या फिर इससे भी ज्यादा है तो सीधा इस High Current को मापना संभव नहीं होता,

तो इसी High Current को मापने के लिए हम CT यानी Current Transformer का इस्तेमाल करते हैं। और इसी CT यानी Current Transformer के जरिए हम इस High Current को आसानी से माप सकते हैं, क्योंकि CT यानी Current Transformer अनुपात में आता है।

Current Transformer अनुपात क्या होता है

अगर हम किसी CT यानी Current Transformer की रेटिंग देखेंगे तो हमें 100:1, 200:1 या 100:5, 200:5 जैसे अनुपात में आता है। इसका सीधा मतलब है Current Transformer हमें 5 या 1 के अनुपात में मिलता है।

मान लेते हैं हमारे पास जो Current Transformer है वह 100:5 की रेटिंग का है, तो इसमें 100 उसका प्राइमरी Current होता है और 5 उसका सेकेंडरी Current होता है। यानी कि उसकी प्राइमरी साइड पर अगर 100A Current फ्लो करता है, तो वह आउटपुट यानी सेकेंडरी पर हमें सिर्फ 5A ही दिखाएगा। तो सेकेंडरी पर मिलने वाला Low Current आसानी से मापा जा सकता है। या फिर हमें कोई भी Protective Device जैसे कि Relay जोड़ना हो तो उसको भी हम आसानी से जोड़ सकते हैं।

Current Transformer एक Step-Up Transformer जैसा ही होता है। ये एक प्रकार से Step-Up Transformer की तरह High Current को Low Current में बदल देता है, और Low Voltage को High Voltage में बदल देता है। या फिर यूं कहें कि Current Transformer का प्रिंसिपल एक Step-Up Transformer जैसा ही होता है, यह Voltage को ज्यादा कर देता है जिससे Current कम हो जाता है, और इस कम किए गए Current को हम आसानी से माप सकते हैं।

Current Transformer का चुनाव कैसे करते हैं

चलिए अब चलते हैं अपने मुख्य विषय की तरफ जो है Current Transformer को कैसे सिलेक्ट करते हैं। चाहे हम मेजरिंग डिवाइस जैसे मीटर के लिए सिलेक्ट कर रहे हो या फिर किसी प्रोटेक्टिव डिवाइस जैसे रिले के लिए सिलेक्ट कर रहे हो, तो वहां पर हमें 100:5 का CT लेना चाहिए या फिर 100:1 का CT लेना चाहिए।

इसके लिए सबसे पहले हमें प्राइमरी Current सिलेक्ट करना होगा तो प्राइमरी Current कैसे सिलेक्ट करना है ये जान लेते हैं, सबसे पहले तो यह देखना होगा हम CT किस चीज के लिए लगाना चाहते हैं। जैसे कोई बड़ी मोटर हो सब स्टेशन हो या फिर किसी इंडस्ट्री में कनेक्ट करना चाहते हैं, सबसे पहले हमें उस सबस्टेशन, इंडस्ट्री या  फिर मोटर का FLC यानी Full Load Current पता होना चाहिए।

Udemy Sale

मान लेते हैं हमने सबस्टेशन के लिए Current Transformer लगाना है, और सबस्टेशन का FLC यानी Full Load Current 1000 एंपियर है, और उसमें जो सर्किट ब्रेकर लगाया गया है वह भी 1000 एंपियर का लगाया गया है। तो वहां पर हमें जो Current Transformer लगाना है उसका प्राइमरी Current भी सर्किट ब्रेकर के जितना यानी 1000 एंपियर होना चाहिए।

या फिर हम मान लेते हैं हमारे पास एक मोटर है उस मोटर का Current मापने के लिए हमने Current Transformer लगाना है। और उस मोटर का FLC यानी Full Load Current 300 एंपियर है, तो इसके लिए हमें 300 एंपियर से ऊपर का जो भी Current Transformer मिले वह हम लगा सकते हैं। मान लीजिए हमें 325 या 350 या 400 एंपियर का Current Transformer मिलता है तो वह हम इस पर कनेक्ट कर सकते हैं।

अब मान लेते हैं हमारे पास एक और मोटर है और उसका Full Load Current 140 एंपियर है तो उसके लिए हम 150 एंपियर वाला Current Transformer इस्तेमाल कर सकते हैं। कुल मिलाकर कहने का मतलब यह है कि जो भी Full Load Current है उसे एक स्टेप आगे यानी के लगभग 10% ज्यादा का Current Transformer इस्तेमाल करना चाहिए।

कुल मिलाकर आपको कहे कि अगर आपको किसी मोटर के लिए Current Transformer लगाना है तो मोटर के Full Load Current  से एक स्टेप आगे का Current Transformer हमें सिलेक्ट करना चाहिए और अगर हमें Current Transformer किसी सबस्टेशन पर लगाना है, तो जैसा कि हम जानते हैं सबस्टेशन का Full Load Current  मापना इतना आसान नहीं है, क्योंकि उसमें लोड कम और ज्यादा होता रहता है। तो ऐसे में वहां पर जो सर्किट ब्रेकर लगा हुआ होता है उसके जितनी रेटिंग का ही Current Transformer हमें इस्तेमाल करना चाहिए।

तो यह तो हो गई बात Current Transformer के प्राइमरी Current के बारे में, अब बात करते हैं हम Current Transformer का जो सेकेंडरी Current है जैसे 100:5 या 100:1 मे 5 और 1 गया उसमें से हमें कौनसा सिलेक्ट करना चाहिए। अब देखिए आपकी एप्लीकेशन चाहे कुछ भी हो यानी कि आप Current Transformer चाहे Current मापने के लिए इस्तेमाल कर रहे हो या फिर प्रोटेक्शन के लिए इस्तेमाल कर रहे हो सबसे पहले यह देखना है।

आपके पास जो Current Transformer है वह आप जिसपे भी लगा रहे हो यानी कि आप किसी मेजरिंग डिवाइस के लिए लगा रहे हो या फिर किसी प्रोटेक्शन डिवाइस के लिए लगा रहे हो, उसकी दूरी Current Transformer से कितनी है यह इस बात पर निर्भर करता है।

मान लेते हैं जो भी डिवाइस हमने Current Transformer के साथ कनेक्ट किया है चाहे वह रिले हो या फिर मेजरिंग डिवाइस उसकी दूरी अगर Current Transformer से 10 मीटर से कम हो तो इस हालत में जो Current Transformer सिलेक्ट करना है वह हमें 100:5 वाला सिलेक्ट करना है, अगर आपके मेजरिंग डिवाइस या प्रोटेक्शन डिवाइस की दूरी Current Transformer से 10 मीटर से ज्यादा है तो आप उसके लिए 100:1 वाला Current Transformer सिलेक्ट कर सकते हैं। जैसे कि 100:1, 200:1। अब आपको पता लग गया होगा  की Current Transformer का चुनाव कैसे किया जाता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

एक बार फिर से आपको बता देते हैं, अगर आपको मोटर पर Current Transformer लगाना है तो आप उसका जो Full Load Current  है उस से ऊपर का Current Transformer लगा सकते हैं। और सेकेंडरी Current के लिए आपको दूरी देखनी होगी अगर 10 मीटर से कम की दूरी है तो रैशियो 5 का आपको Current Transformer सिलेक्ट करना है और 10 मीटर से ज्यादा की दूरी है तो आपको रैशियो 1 का Current Transformer सिलेक्ट करना है।

तो उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी, पसंद आई है तो आप हमें कमेंट में बता सकते हैं और कोई भी जानकारी आप चाहते हो तो भी हमें कमेंट में लिख सकते हैं, साथ ही आप हमारे इलेक्ट्रिकल से जुड़े वीडियो हिंदी में देखना चाहते हैं तो हमारे यूट्यूब चैनल Electrical Help  को सब्सक्राइब कर सकते हैं।

Previous article3 फेस मे 440v क्यु होते हैं। Why 3 phase voltage is 440?
Next articlePower Factor Interview Question And Answers [हिन्दी]

6 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here